क्रिप्टोमुद्रा में निवेश करना

प्रति दिन निवेश की नई संभावनाओं के आने के साथ, धन प्रबंधन के लिए आपके पास कौन से विकल्प हैं इनके बारे में अप-टू-डेट रहना महत्वपूर्ण हो जाता है। क्योंकि पोर्टफोलियो संतुलित किया जाना चाहिए, अच्छे पोर्टफोलियो में कुछ जोखिम युक्त संपत्तियां शामिल होती हैं, जैसे कि क्रिप्टोमुद्राएं।

जबकि क्रिप्टोमुद्रा में निवेश करने का अधिक जोखिम होता है लेकिन सांख्यिकीय रूप से यदि क्रिप्टोमुद्रा को उचित कीमत सीमा के भीतर ख़रीदा जाये तो जोखिम की अपेक्षा प्रतिलाभ अत्यधिक होते हैं।

क्रिप्टोमुद्रा लेनदेन को संसाधित करने तथा नए सिक्कों का सृजन करने के लिए क्रिप्टोग्राफी का उपयोग करती है। सभी लेनदेन ब्लॉकचैन पर संग्रहित किए जाते हैं। यह खता-बही को एक डेटा संरचना प्रदान करता है जो कि हैकरों से अच्छी तरह से अछूती है और जिसे किसी भी कंप्यूटर पर कॉपी किया जा सकता है। क्रिप्टोग्राफी का उपयोग सिक्कों की नकल बनाना भी बहुत कठिन बनाती है। क्रिप्टोमुद्राएं अपनी विकेन्द्रीकरण प्रकृति की वजह से बहुत लोकप्रिय हैं। कई उपयोगकर्ता मानते हैं कि यह उपयोगकर्ताओं को सरकार के हस्तक्षेप तथा हेरफेर से सुरक्षा प्रदान करती है। इसमें एक उम्मीद यह भी है कि क्रिप्टोमुद्रा बैंकों पर मुद्रा के एकाधिकार को तोड़ने में मदद करेगी।

कई कारकों की वजह से लोग क्रिप्टोमुद्रा के प्रति आकर्षित होते हैं, उनमें से कुछ हैं:

1: रिटर्न की अत्यधिक संभवना?


जब हम निवेश करते हैं, हम अधिकतम संभव रिटर्न की कामना तथा लक्ष्य रखते हैं। ठीक है, क्रिप्टोमुद्रा के अलावा अन्य किसी भी निवेश वर्ग में अधिक रिटर्न नहीं है; रिटर्न के मामले में कोई भी दूसरे स्थान से अधिक नहीं है। बेशक, अधिक रिटर्न का मतलब अधिक अस्थिरता भी होती है; और अधिक अस्थिरता अधिक जोखिम का प्रतिनिधित्व करती है। पिछले कुछ सालों से सांख्यिकीय विश्लेषण ने यह खुलासा किया है कि जब क्रिप्टोमुद्रा अपना मूल्य खोती है तो आमतौर पर यह अपने पिछले रिकॉर्ड उच्च स्तर से लगभग 2/3 से 3/4 कम हो जाता है। लेकिन उल्लेखनीय रूप से, जब यह फिर से उछलती है तो यह पिछले उच्च स्तर से दस गुना बढ़ जाएगी। इन विश्लेषणों तथा परिणामों के आधार पर, यह कहना सुरक्षित है कि यदि कोई व्यक्ति क्रिप्टोमुद्रा को इसके न्यूनतम स्तर या इसकी पिछली अधिकतम कीमत से बड़ी रियायत पर खरीदता है तो इस बात की अधिक संभवना है कि यह निवेश कुछ गुना रिटर्न दे सकता है।

2: कीमत-चक्र की लघु अवधि


एक अपेक्षाकृत नई आस्ति वर्ग के रूप में, क्रिप्टोमुद्रा प्रति दिन सैकड़ों नए निवेशकों को आकर्षित करती है। नए निवेशक इस तेजी से बढ़ते आस्ति वर्ग में नई निधि लाते हैं। इसलिए, सुधार चरण के बाद क्रिप्टोमुद्रा को अन्य आस्ति वर्गों जैसे शेयरों, वस्तु तथा फिएट मुद्रा, जिन्हें संभलने में कई वर्ष लग सकते हैं, की तुलना में फिर से उछलने में कम समय लगता है, आमतौर पर कुछ महीने। निवेशकों को पता है कि यह संभावना है कि वे जल्दी से अपने निवेश को भुनाना शुरू कर सकते है।

3. सीमित आपूर्ति


संचलन में अधिकांश क्रिप्टोमुद्राओं की सीमित आपूर्ति होती है। क्योंकि अधिक से अधिक व्यापार ब्लॉकचैन प्रौद्योगिकी अपनाएंगे, क्रिप्टोमुद्रा की मांग बढ़ेगी। सीमित आपूर्ति के साथ बढ़ती हुई मांग, मतलब कीमते केवल ऊपर ही जा सकती हैं।

बाज़ार पूंजीकरण के अनुसार सबसे बड़ी क्रिप्टोमुद्रा बिटकॉइन (XBT) है, इसके बाद ईथेरियम (ETH) तथा रिप्पल (XRP) आते हैं। बाजार में कई अन्य वैकल्पिक मुद्राएं भी हैं और निवेशकों को निवेश करने से पूर्व मुद्रा के सिद्धांत को स्पष्ट रूप से समझना चाहिए।

किसी व्यक्ति द्वारा क्रिप्टोमुद्रा में निवेश करने का निर्णय लेने से पूर्व कुछ विचार:

  1. क्या संचलन में सीमित/अधिकतम आपूर्ति होगी?
  2. मुद्रा का उद्देश्य क्या है?
  3. क्या मुद्रा अपने स्वयं के मंच पर प्रयोग करने के योग्य है जैसे ईथेरियम और रिप्पलस पर ईथर या लेनदेन के माध्यम के रूप में यह केवल स्पष्ट मुद्रा है जैसे बिटकॉइन एवं लाइटकॉइन?
  4. कितने उपयोगकर्ता मंच/मुद्रा का उपयोग करेंगे?
  5. क्या मुद्रा का सृजन करने वाला ब्लॉकचैन मंच दीर्घावधि में लाभदायक होगा?
  6. मुद्रा के रिकॉर्ड/ऐतिहासिक कीमत प्रदर्शन की निगरानी करें।

Financial.org परियोजना, मंच तथा मुद्रा के आधार तथा सिद्धांत और साथ ही उपयोगकर्ताओं की अपेक्षित संख्या को उजागर करके अपने सदस्यों को शिक्षित करता है। हमारा मानना है कि क्रिप्टोमुद्रा के सफल होने के लिए:

  • पहले, इसे एक ऐसे ब्लॉकचैन मंच से आरम्भ होना चाहिए जिसका आकर्षक सिद्धांत (काम का सबूत) हो।
  • दूसरा, समग्र वित्तीय क्षमता, योजना और भविष्य और साथ ही क्रिप्टोमुद्रा का सृजन करने वाले मंच का आधार मजबूत होना चाहिए; मतलब अपना प्रयोजन पूरा करने के लिए अपनी संचालन गतिविधियों के आधार पर दीर्धावधि में इसे पर्याप्त आय उत्पन्न करने में सक्षम होना चाहिए।
  • अंत में, यह सब उपयोगकर्ताओं की संख्या से संबंधित है! यदि पर्याप्त उपयोगकर्ता नहीं है तो यहाँ तक कि सर्वश्रेष्ठ क्रिप्टोमुद्रा को कीमत में बढ़ने में कठिनाई होगी। आखिरकार क्रिप्टोमुद्रा एक वस्तु के जैसे है; परिभाषा के अनुसार यह एक वस्तु है। जब सीमित आपूर्ति के साथ अच्छी मांग होती है, कीमत में उछाल आता है। उपयोगकर्ताओं की कमी की वजह से अधिकांश क्रिप्टोमुद्राएं अपनी पूर्ण क्षमता तक पहुँचने में विफल हो गई। ऐसा माना जाता है कि 50,000 एक जादुई संख्या है। इससे कुछ भी कम सफलता की संभावनाओं को कम करता है और इससे कुछ भी अधिक इसकी सफलता की गारंटी देता है।

निष्कर्ष के तौर पर, क्रिप्टोमुद्रा में निवेश करना एक उर्ध्वगामी प्रवृति है। यह प्रवृति कम से कम अगले 3-5 वर्षों के लिए जारी रहने के लिए निर्धारित है क्योंकि ज्यादा से ज्यादा वित्तीय संसथान, बहु-राष्ट्रीय निगम तथा व्यापार ब्लॉकचैन प्रौद्योगिकी में स्थानान्तरण कर रहे है और ब्लॉकचैन अनुप्रयोगों को अपना रहे हैं।

Financial.org शिक्षा सिद्धांत अपने सदस्यों को क्रिप्टोमुद्रा में अपने निवेश का 20% से अधिक निवेश करने के समर्थन से इंकार करता है। हालांकि इस समय जोखिम रिटर्न को उचित ठहराते हैं, फिर भी उच्च-जोखिम आस्ति वर्ग में अपने सारे जीवन की बचत का निवेश करने की कोई आवश्यकता नहीं है। विविधीकरण खेल का नाम है।

डाउनलोड के लिए उपलब्ध है
डाउनलोड के लिए उपलब्ध है
आज ही हमारे आधिकारिक मोबाइल ऐप डाउनलोड करें।
Financial.org एक शैक्षणिक मंच है। हम प्रतिभूतियों के साथ लेनदेन नहीं करते हैं और वित्तीय उत्पाद और सेवा प्रदाताओं से कोई वित्तीय लाभ प्राप्त नहीं करते हैं।
सर्वाधिकार सुरक्षित © 2016 - 2019